Mohit Trendy Baba's few lucky saved works from defunct websites, forums, blogs or sites requiring visitor registration....

Monday, January 12, 2015

Short Film - भालू मानव Notes (मोहित ट्रेंडस्टर)

Notes, Idea - Bhaalu Manav Short Video

Pic - Bidholi, Dehradun

"8 साल की नौकरी में 41 एनकाउंटर्स कर चूका हूँ, अच्छा सा लगता है,  गुदगुदी सी होती है पेट में जब निशाना सही लगता है और खून का गुब्बारा सा बर्स्ट होता है मुजरिम से। 

हाँ... 2 बेचारे गलत मर गये जिनकी वजह से मानवाधिकार वाले दल्ले पीछे पड़े है। बाकी 39 दर हरामखोरो को मारने का हिसाब नहीं देखेंगे कमीने, जिनको मार कर मैंने कितनी जाने बचायी और वैसे भी गेहूं के साथ घुन तो पिसता ही है। 

मैं गलत काम करता नहीं कुछ, मजबूरी करवा देती है। 
जैसे पिछले महीने प्रमोशन लिस्ट आने वाली है ये हल्ला सा मचा। मैंने सोर्सेज से पता करवाया तो पता चला 150 सेलेक्ट होने थे  और लिस्ट में मेरा नंबर 152वा था। 145वे और 149वे नंबर पर 2 बुढऊ थे, महावीर स्वामी जैन जी का नाम लेकर टरका दिये दोनों मैंने, वैसे भी कुछ सालों के मेहमान थे, कल जाते मैंने आज विदा कर दिया इस मोह माया से। पर कमीना नहीं हूँ, ओन ड्यूटी मारा दोनों को। पेंशन अच्छी बंधेगी दोनों के परिवारों की। इस बहाने मेरा प्रमोशन भी हो गया उपरवाले कि कृपा से। 

गुस्सा कंट्रोल रहता है पर कभी-कभी बकर में गर्मी चढ़ जाती है, जैसे एक बार जानकार ने टिप दी की मेरी रिश्वत की आदत उजागर करने के लिए कोई युवा खोजी पत्रकार भेस बदल कर छुपे कैमेरे के साथ मेरा स्टिंग ऑपरेशन करेगा। वो दंपत्ति बनकर आये, साथ में अपनी जूनियर माल को भी लाया था पत्नी बनाकर। उन्होंने किसी ज़मीन की समस्या बताकर, एडवांस देने को कहा। मैंने उन्हें डांटा और दोबारा ऐसा करने पर गिरफ्तार करने की बात कही। दोनों हैरान थे, चेहरे देखने लायक....की फूलप्रूफ सक्सेस सोच कर आये थे पर यह क्या ट्विस्ट आ गया?

उनके जाने के थोड़ी देर बाद खबर आई की गोमती नदी पुल पर उनपर किसी बंदूकधारी भालू मानव ने हमला किया। दूर से लोगो ने उसके वीडियो भी बनाये। भालू मानव ने महिला पत्रकार के साथ अश्लील इशारे और हरकतें की, फिर पुरुष पत्रकार से पैसो वाला बैग छीन कर दोनों को गोमती में धक्का दे दिया। दोनों को तैरना नहीं आता था और नदी का बहाव भी तेज़ था। एक गोताखोर ने उन्हें बचाने के लिए नदी में छलांग लगायी तो भालूमानव ने उसकी टांग पर गोली मार दी वो खुद किसी तरह नदी से निकल पाया। बहुत बुरा हुआ!

वो भालू मानव मैं ही हूँ। हा हा हा हा...."

#Monologoish #mohitness

- मोहित ट्रेंडस्टर 

No comments:

Post a Comment